हिंदी सौरभ ।

१. जिंदगी तो बेवफ़ा है । एक दिन ठुकरा देगी ।
मौत मेहबूबा है , अपनी साथ लेकर जाएगी ।
२. जो दूसरों की मदद करता है , भगवान उसकी
मदद करता है ।
३. गुरु गोविन्द दोनों खड़े ,काके लागू पॉय ,बलिहारी
गुरुं आपकी गोविन्द दियो बताय ।
सात समुन्दर की मसि मसि करों लेखनी सब बनायी ,
धरती कागज़ करों गुरु गुण लिखा न जाय ।
४. गरीबी अच्छी बात नहीं ;न ही उसेबढ़ाचढ़ा कर बताए।
५. जो माँ बाप अपने बच्चों के पहले कदम उठाने में मदद
करतें हैं , उनके आखरी कदम उठाने में वे बच्चे साथ देना चाहिए ।
६. जो धीरे चलते हैं वे दूर तक जातेँ हैं ।
७. ऐसे कानून व्यर्थ हैं , जिनके अमल की व्यवस्था ही नहीं ।
८.बुरी चीज़ से लड़ना ही होगा और उसे ख़त्म भी करना होगा ।
९. महान प्रेम को गुप्त ही रखना चाहिए ।
१०. आज कल आप किसी पर निर्भर नहीं रह सकते ।
बुढ़ापे के लिए बचत करें ।
मूल :संग्रह ।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s