हिंदी विभाग|

१)मन
मन जीते, जग जीत |
कितनी अजीब बात है ,
यह  दिल जीवन भी देता है,
मार भी  डालता  है|
२)सच्चे दोस्त
हम वह  नहीं  जो तुम्हें
घम में  छोड़ देंगें ;
हम  वह  नहीं  जो  तुझसे
नाता तोड़ देंगे|
हम तो तेरे वह दोस्त हैं ,
जो, अगर तेरी साँस रुक जाए ,
तो अपनी साँसें जोड़ देंगे|
३)प्यार
रात भर जले दिए भी  सुबह
भुझ  जाया करते है|
और  हम हैं जो तुम्हारे प्यार में
दिन रात जला करते  हैं|
४) हँसना  मना है|
पहला आदमी: ”Hello ,मैं  बोल रहा हूँ ”
(Phone  में  बातें  हो रहा है)
दूसरा आदमी :” Hello , कमाल है , इधर
भी  मैं ही  बोल रहा हूँ”|
मूल:संग्रह.
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s